mein hoon naa

Just another weblog

18 Posts

53 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 4815 postid : 91

बाबा राम देव --योग गुरु या व्यापारी

Posted On: 2 Mar, 2012 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

 
दिनांक  01/03/2012 को कई समाचार पत्रों में विज्ञापन प्रकाशित  हुआ है की अब पंतजलि  आयुर्वेद  के उत्पाद खुले बाज़ार में बिकेगे | पंतजलि  आयुर्वेद  लि.  अनुसार उनके उत्पाद पूर्ण स्वदेशी  उच्च गुणवता युक्त स्वास्थ्य वर्धक सबसे अच्छे  एवं सबसे सस्ते होंगे | इसके साथ साथ घोषणा भी की है की 3 हज़ार से अधिक आबादी वाले प्रत्येक गावं में स्वदेशी केंद्र खोल कर विदेशी कंपनियों के लूट के षड्यंत्र से देश को  बचायेंगे | इस पर कांग्रेस महासचिव एवं पूर्व मुख्य मंत्री मध्य प्रदेश श्री दिग्विजय सिंह ने फ़रमाया है की बाबा राम देव योग गुरु से व्यापारी हो गए हैं | वैसे वो उन्हें ठग की उपाधि से भी  अलंकृत कर चुके हैं |
 
यदि राम देव जी द्वारा पहले से संचालित आरोग्य केन्द्रों के अनुभव के आधार पर कहा जाये तो   पंतजलि संस्थान के उत्पादनों की गुणवता और मूल्य अन्य कम्पनियों से बहेतर है | विदेशी कम्पनियों की तरह लूट नहीं मचाई हुई है | राम देव जी के  ट्रस्ट   द्वारा उत्पाद बना  व बेच कर कमाए हुए धन से कई कल्याण कारी योजनाये उनके ट्रस्ट    द्वारा चलायी जा रही हैं | इस कमाई का उपयोग रामदेव जी निजी जीवन के लिए  नहीं हो रहा  हैं ना ही काले धन के रूप में विदेशी बैंको में जमा हो रहा है | लेकिन रामदेव  जी को  आज कांग्रेस के शत्रु के रूप में देखते  हुए दिग्विजय  सिंह सरीखे लोग उन पर अनाप शनाप आरोप लगा कर उन्हें बदनाम करना चाह  रहे हैं | शायद उनकी आँखों पर विशेष  चश्मा लगा है जिससे उन्हें  बाटला  हाउस  में हुई    मुठभेड़ भी उन्हें फर्जी दिखाई दे रही है | जबकि भारत सरकार भी इस    मुठभेड़  को इसके विपरीत सही मान चुकी है | हमें आदरणीय रामदेव जी इस पहल की सहारना  करनी चाहिए तथा उन्हें सफल बना उनके द्वारा  चलाए  जा रहे स्वदेशी  आन्दोलन को सफल बनाना चाहिए  |

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

4 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

dineshaastik के द्वारा
March 7, 2012

सुभाष जी नमस्कार, यह सच है बाबा रामदेव योगी नहीं व्यापारी हैं व्यापारी होने मैं कोई बुराई नहीं हैं। किन्तु इस बात को नकारना कि मैं व्यापार नहीं योग करवा रहा हूँ, दुर्भाग्य पूर्ण है। मुझे इसके अतिरिक्त बाबा रामदेव की आलोचना करने का कोई आधार नजर नहीं आता…. होली की शुभकामनायें… कृपया इसे भी पढ़े एवं अपने विचारों से आवश्य ही अवगत करायें…. http://dineshaastik.jagranjunction.com/2012/03/04/क्या सचमुच ईश्वर है (कुछ सवाल)

    Subhash Wadhwa के द्वारा
    March 11, 2012

    बाबा राम देव व्यापार के साथ साथ योग भी सिखला रहे हैं , व्यापार पार्ट टाइम है

Tamanna के द्वारा
March 3, 2012

सुभाष जी,,, बाबा रामदेव धीरे-धीरे अपने मंत्व्य साफ करते जा रहे हैं.. पहले उनकी राजनीति में आने की इच्छा साफ हुई और अब बिजनेसमैन बनने की ख्वाहिस सब के सामने आने लगी हैं. लेकिन फिर भी उनके अनुयायी उन पर संदेह नहीं रखना चाहतें.. अजीब विडंबना है यह.. http://tamanna.jagranjunction.com/2012/02/27/marriage-customs-indian-marriages-and-change-of-name/

    Subhash Wadhwa के द्वारा
    March 5, 2012

    तमन्ना जी, प्रतिक्रिया हेतु धन्यवाद ,बाबा राम देव जी जो कर रहे हैं वो जग जाहिर है | मगर जो उनका विरोध कर रहे हैं , उनके कार्यकलापो को जनता जानना चाहे तो भी नहीं जान सकती | जब तक बाबा ने उनके विरुद्ध आवाज़ नहीं उठायी बाबा अछे थे अब ठग चोरे या इससे भी बढ़ कर कुछ हैं


topic of the week



latest from jagran