mein hoon naa

Just another weblog

18 Posts

53 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 4815 postid : 115

एनएचएआई में भ्रष्टाचार

Posted On: 5 Apr, 2012 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

विश्व बैंक ने अपनी रिपोर्ट में उनसे सहायता प्राप्त तथा एनएचएआई की देख रेख में चल रही तीन सड़क परियोजनायो , ईस्ट वेस्ट कैरी डोर, जी टी रोड इम्प्रोव्मेंट प्रोजेक्ट तथा नेशनल हाईवे प्रोजेक्ट-3 में हो रहे भ्रष्टाचार पर सरकार का ध्यान दिलाया है | विश्व बैंक ने इस परियोजनायों के पूरी होने में हो रही देरी पर भी टिपण्णी कि है रिपोर्ट में प्रोग्रेसिव कंस्टरक्शन लिमिटेड और पी सी एल — एमवीआर जोइंट वेंचर पर भ्रष्टा चार के आरोप लगायें हैं इन कंपनियों ने प्रथम चरण में फ़र्ज़ी वोचर दे कर करोड़ो रूपए का अग्रिम भुगतान लिया तथा दूसरे चरण में भी फर्जी वोचर देकर करोड़ो रूपये की धन राशि प्राप्त कर दूसरे प्रोजेक्टों में लगाई | इन कंपनियों पर यह भी आरोप लगाया है कि विश्व बैंक की कुछ अन्य परियोजनायो को प्राप्त करने के लिए इन कंपनियों ने एनएचएआई के अधिकारिओ पर लग भग दो करोड़ रूपये कि राशि खर्च की | जिससे उनके लिए होटल में रहने का बंदोबस्त,उनके लिए तथा उनके परिवार के लिए स्वर्ण मुद्राएँ तथा उनके ऐशो आराम के लाखों रूपये उन्हें नकद दिए गए \ इन परियोजनायो के लिए आवंटित धन से खरीदी गयी मशीनों का कही और इस्तेमाल किया गया | जिन कंपनियो पर आरोप लगे हैं उन मे से एक कंपनी का संबंध किसी सांसद है | सड़क परिवहन मंत्री ने रिपोर्ट का ज़िक्र करते हुए कहा है कि एनएचएआई से जवाब माँगा गया है लेकिन उन्हें रिपोर्ट में कुछ ऐसा दिखाई नहीं दिया है |दिखेगा भी कैसे जब पूरी सरकार को पहले 2G में कोई भ्रष्टा चार नहीं दिखा था ना रक्षा सौदों कोई बेईमानी दिखी है आदर्श सोसाइटी घोटाला भी तब नज़र आया था जब सारी जनता इसे जान चुकी थी|

एक समाचार पत्र में कुछ दिन पहले “हाईवे के निर्माण में देरी पर हाईकोर्ट ने लगाई फटकार ” शीर्षक के अंतर्गत समाचार प्रकाशित हुआ था कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर निर्माण कार्य कि धीमी गति के खिलाफ दायर जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट ने केंद्र सरकार व एनएचएआयी निर्देशक को खूब फटकार लगाई | यहाँ तक भी कहा की अथारिटी के अधिकारिओ की ठेकेदारों से मिली भगत लगती है जिस कारण कार्य पूरा नहीं हो पा रहा है |

मैं फरीदाबाद का निवासी हूँ इस लिए फरीदाबाद से सम्बंधित कुछ कहना चाहूँगा | बदरपुर(दिल्ली ) से फ़रीदाबाद वाईऍमसीए तक की मेट्रो लाइन का कार्य हाईवे अथारिटी आफ इंडिया द्वारा उठायी गयी आपत्तियों के कारण सुचारु रूप से शुरू नहीं हो पा रहा है | यदि शुरू होने में विलम्ब हो रहा है तो पूरा होने भी विलम्ब होगा ही | यह सत्य है फ़रीदाबाद तक मेट्रो रेल शुरू होने के बाद बदरपुर फ्लाई ओवर पर वसूल किये जा रहे टोल टैक्स में कमी आएगी \ कही ऐसा तो नहीं की हाईवे अथारिटी आफ इंडिया जान बूझ कर बदरपुर फ्लाई ओवर पर टोल टैक्स वसूल करने वाली कम्पनी को लाभ पहुंचाने के लिए यह सब कर रही हो |अथारिटी के अधिकारी ठेकेदारों के हितों का ध्यान रख रहे हैं तो ठेकेदार अधिकारिओं के हितों का ध्यान ज़रूर रख रहे होंगे |

कई समाचार पत्रों में समय समय पर यह भी प्रकाशित होता रहा की हाईवे अथारिटी आफ इंडिया NH – २ पर चलने वाहनों से टोल टैक्स तो वसूल कर रही है लेकिन हाई वे पर सफाई तथा रखरखाव पर कोई ध्यान नहीं दे रही | जिस कारण पूरी सड़क के दोनों ओर गंदगी के अंबार लगे हुए है तथा जगह जगह पर सड़क टूटी हुई है जिसके कारण दुर्घटना होने का अंदेशा बना रहता है | क्या सरकार एनएचएआई में हो रही धांधलियो के बारे कुछ सोचेगी |

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

2 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

चन्दन राय के द्वारा
April 5, 2012

सुभाष वाधवा Sir, मैं भी फरीदाबाद का निवासी हूँ और आपने जो महत्पूर्ण प्रशन उठाये हैं वो सचमुच तार्किक है यह हैरानी की बात है की एशिया का सबसे बड़ा औद्दोगिक क्षेत्र आज कितना पिछड़ गया है , उत्तम आलेख

    Subhash Wadhwa के द्वारा
    April 6, 2012

    प्रिय चन्दन राय सदा खुश रहो प्रतिक्रिया हेतु धन्यवाद फरीदाबाद के नेता केवल फरीदाबाद में ही बोलते हैं कभी यह नहीं सुना /देखा की हमारे माननीय सांसद महोदय ने कभी फरीदाबाद से सम्बंधित विषय संसद में उठाया हो यही हाल हमारे विधायको का है | मंत्री तो जरूर बन गए हैं लेकिन अपने फरीदाबाद को भूल चुके हैं यदि हमारे वर्तमान अवं भूतपूर्व विधायक यदि अपने क्षेत्र को ध्यान में रखते तो आज गुरगाव फरीदाबाद से आगे न निकल पाता फरीदाबाद की कई समस्याएं हैं हमें ही इनको उठाना होगा | वाधवा सुभाष ,फरीदाबाद


topic of the week



latest from jagran